सपनों की उड़ान!

सपनों की उड़ान!

मैंने कहीं सुना था, सपने देखना बहुत जरूरी होता है।

बंद आँखों से ना सही, खुली आँखों से ही सही।

मैंने भी देखा है एक सपना।

उड़ान भरने का मेरी ख़्वाहिशों के साथ।

हाँ, ये है मेरी सपनों की उड़ान!

जहाँ मेरी उत्सुकता, मेरी सीखने की इच्छा मुझे ले आई है इस उन्मुक्त गगन में।

जहाँ मैं और मेरे सपने, खुशी से हिचकोले खा रहे है।

नज़र रखे हुए अपनी तैयारियों पर,

आगे बढ़ने की संभावनाओं और पहरेदारियों पर।

अब जब कदम आगे बढ़ा ही दिया है तो रुकने का तो सवाल ही पैदा नहीं होता।

चाहे आए कितनी भी मुश्किलें, पीछे मुड़ने का तो ख्याल ही पैदा नहीं होता।

मैंने कहीं सुना था, सपने देखना बहुत जरूरी होता है।

बंद आँखों से ना सही, खुली आँखों से ही सही।

मैंने भी देखा है एक सपना।

उड़ान भरने का मेरी ख़्वाहिशों के साथ।

©®दीपिका

सुकून की तलाश!

https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/22/sukoon-ki-talash/

नई सहर रोशनी वाली!

https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/21/nayi-sahar-roshani-vali/

वक़्त जो रुकता नहीं।

https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/20/waqt-jo-rukta-nahi/

प्यार की ताक़त!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/18/pyar-ki-taakat/

माँ की जादूगरी!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/17/maa-ki-jaadugari/

नज़रिये का फेर!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/16/nazariye-ka-pher/

मन की सुंदरता!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/15/man-ki-sundarta/

लम्हे जो बीत गए है।https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/14/lamhe-jo-beet-gaye-hai/

बीते कल की परछाई!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/13/beete-kal-ki-parchaai/

जंग दिल और दिमाग की!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/11/jang-dil-aur-dimag-ki/

हज़ारों बहाने है जीने के!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/09/hazaro-bahane-hai-jeene-ke/

गमों के बादल!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/08/gamo-ke-baadal/

वो एक फ़रिश्ता!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/06/vo-ek-pharista/

इंसानियत कुछ खो सी गई है!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/06/insaaniyat-jo-kuch-kho-si-gayi-hai/

और भी दर्द है इस ज़माने में!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/04/aur-bhi-dard-hai-is-zamane-main/

चलो फिर से शुरू करते है।https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/03/chalo-phir-se-shuru-karte-hai/

बेमक़सद जीना भी कोई जीना है?https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/01/bemaksad-jina-bhi-koi-jina-hai/

अजीब दास्तां है ये!https://myaspiringhope.wordpress.com/2020/04/01/ajeeb-dastaan-hai-ye/